old brown white back

कविताएँ - Poems in Hindi

बाबा से प्रेरित यह विशेष कविताये है जो आपमें पुरुषार्थ की उमंग भर देंगी  (Poems written on inspirations by Shiv baba. These special poems brings the pure joy of wisdom of Gyan Murli and makes our Purusharth seem easy. Poems by Brahma Kumar Mukesh bhai (Rajasthan, India). If you have a query or for old poems, contact BK Mukesh via email bkmukesh1973@gmail.com

Please SHARE bksustenance website.

 

Download or print the Hindi Poems PDF book.

जीवन जीने की कला

सच्ची दिवाली मनाये

बदलो अपनी जीवन (संगम युग)

जीवन की सफलता (success in life)

वाणी पर कंट्रोल (control on speech)

विश्व सेवा अर्थ बाबा की प्रेरणाएँ

सेवाधारी फरिश्ता महान (Angel on service)

ईश्वरीय सेवा की राह (path to Godly service)

* साथी हमारा स्वयं भगवान *

भण्डार हमारे भर दिए उसने एक नजर डालकर

 

पावन हमें बना दिया सर्व विकारों से निकालकर

 

बोझ उठाकर उसने बुद्धि से हल्का मुझे बनाया

पवित्रता के पंख लगाकर उसने उड़ना सिखाया

स्वप्न में नहीं सोचा था मिलेगा हमें सर्वशक्तिमान

हम फक्र से कहते हैं साथी हमारा स्वयं भगवान

मिटने वाली दुनिया का आकर्षण किया समाप्त

नई दुनिया के स्वप्न मेरी बुद्धि में होने लगे व्याप्त

लगन एक ही जागी मन में तपस्या करते जाएंगे

 

खुद के संग संग सारी दुनिया को पावन बनाएंगे

 

*ॐ शांति*